771 मिलियन एईडी के पेट्रोलियम स्टोरेज प्रोजेक्ट उद्घाटन में एडीएफडी ने भाग लिया

  • تدشين مشروع بناء السعات التخزينية للمشتقات النفطية في الأردن بتمويل من الإمارات
  • تدشين مشروع بناء السعات التخزينية للمشتقات النفطية في الأردن بتمويل من الإمارات

अबू धाबी, 13 जून, 2019 (डब्ल्यूएएम) - अबू धाबी फंड फॉर डेवलपमेंट (एडीएफडी) के एक उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल आज 771 मिलियन एईडी ( 210 मिलियन अमेरिकी डॉलर) की जॉर्डन में पेट्रोलियम स्टोरेज प्रोजेक्ट परियोजना के उद्घाटन समारोह में शामिल हुए। पूरी तरह से एडीएफडी द्वारा वित्तपोषित है। यूएई सरकार द्वारा 4.6 बिलियन एईडी (1.25 बिलियन अमेरिकी डॉलर) की 2013 में खाड़ी विकास निधि काे योगदान के रूप में जॉर्डन के विकास परियोजनाओं में वित्तपाेषण करने के लिए, जीसीसी सदस्य देशों की 5 बिलियन एईडी की यह परियाेजना है। 356,000 टन भंडारण क्षमता वाले इस परियोजना में हल्के पेट्रोलियम उत्पादों के लिए 22 भंडारण सुविधाओं का निर्माण शामिल है, जिसमें द्रवीभूत पेट्रोलियम गैस के साथ ही पेट्रोलियम डेरिवेटिव, डीजल, गैसोलीन और जेट ईंधन शामिल हैं। सर्वश्रेष्ठ अंतरराष्ट्रीय मानकों के आधार पर निर्मित तथा स्वास्थ्य, सुरक्षा व पर्यावरणीय उपकरणों से सुसज्जित इस परियोजना में टैंकों के लिए लोडिंग व अनलोडिंग क्षेत्रों के साथ-साथ जल उपचार प्रणाली भी फिट किया गया है। जॉर्डन के प्रधानमंत्री उमर रज्जाज ने इसका उद्घाटन किया। उद्घाटन समारोह में एडीएफडी के महानिदेशक मोहम्मद सैफ अल सुवैदी, जॉर्डन के नियोजन और अंतर्राष्ट्रीय सहयोग मंत्री डॉ. मोहम्मद अल-इस्सिस, जॉर्डन की ऊर्जा और खनिज संसाधन मंत्री हला जवाती के साथ ही दोनों पक्षाें के कई वरिष्ठ अधिकारियाें ने भाग लिया। अल सुवैदी ने कहा कि यूएई और जॉर्डन ने इस ऐतिहासिक द्विपक्षीय संबंधों का जश्न मनाया। यूएई नेतृत्व देश के व्यापक विकास के लिए जॉर्डन को सभी तरह की सहायता देने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि जॉर्डन में पेट्रोलियम भंडारण सुविधा परियोजना आर्थिक विकास लाभ है। तेल क्षेत्र के बुनियादी ढांचे के विकास के अलावा जॉर्डन सरकार को ऊर्जा क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने और पेट्रोलियम डेरिवेटिव के रणनीतिक भंडार सुरक्षित रखने के लिए इसे बनाया गया है। उन्होंने आर्थिक गतिविधि प्रोत्साहित करने और विकास परियोजनाओं काे प्राथमिकता देते हुए वित्तपोषण के जरिये जॉर्डन काे सतत विकास हासिल करने में एडीएफडी के योगदान को भी स्वीकार किया। जवाती ने जॉर्डन के लोगों की जारी सहायता के लिए यूएई नेतृत्व की सराहना की। उन्होंने यूएई और जॉर्डन के बीच भाई सरीखे संबंधों की तारीफ की। उन्हाेंने जोर्डन के किंग अब्दुल्ला द्वितीय, राष्ट्रपति महामहिम शेख खलीफा बिन जायद अल नाहयान और अबू धाबी के क्राउन प्रिंस और यूएई सशस्त्र बलों के उप सर्वाेच्च कमांडर महामहिम शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान के बीच मजबूत भ्रातृ संबंधों की प्रशंसा की। जार्डन सरकार को स्थायी आर्थिक विकास हासिल करने में मदद देने पर एडीएफडी की भूमिका पर प्रकाश डालते हुए जॉर्डन की ऊर्जा मंत्री ने कहा कि एडीएफडी प्रमुख ऊर्जा परियोजनाओं में रणनीतिक वित्तपोषण कर रही है, जिससे अर्थव्यवस्था को उत्तेजित करने में मदद मिलती है। उन्हाेंने तेल भंडारण की आपूर्ति व सुरक्षा सुनिश्चित करने में पेट्रोलियम भंडारण सुविधा परियोजना के महत्व पर राेशनी डाला। उन्होंने कहा कि परियोजना जॉर्डन में 60 दिनों की घरेलू उपभोग के लिए पेट्रोलियम उत्पादों के भंडार बनाए रखने में भंडारण इकाइयों को देगी। इसके अलावा रोजगार के अवसर पैदा हाेंगे। परियोजना से जॉर्डन की तेल सुरक्षा और बुनियादी ढांचे बढ़ेगी। अनुवादः वैद्यनाथ झा http://wam.ae/en/details/1395302767595

WAM/Hindi