ईयर ऑफ टॉलरेंस की पहली छमाही में शेख जायद मस्जिद में 4 मिलियन से अधिक लोग पहुंचे 


अबू धाबी, 14 जुलाई, 2019 (डब्ल्यूएएम) -- ईयर ऑफ टॉलरेंस की पहली छमाही में शेख जायद मस्जिद में 4 मिलियन से अधिक लोग पहुंचे। शेख जायद ग्रैंड मॉस्क जो इस्लाम, शांति, सहिष्णुता और विविधता के संदेश का प्रतीक है, ने ईयर ऑफ टॉलरेंस की पहली छमाही में 249 देशों के 4,480,000 लोगों का स्वागत किया। ये आंकड़े शेख जायद ग्रैंड मॉस्क सेंटर द्वारा जारी किए गए हैं। आंकड़ों के अनुसार, इन लोगों में 967,150 लोगों ने प्रार्थना में हिस्सा लिया था। रिपोर्ट में कहा गया है कि एशिया से यहां पहुंचने वालों की संख्या 10 लाख से अधिक थी, जबकि इसके बाद यूरोप से करीब 623,000 लोग पहुंचे। इसके अलावा उत्तरी अमेरिका से 95,000, अफ्रीका से 53,000, दक्षिण अमेरिका से 49,000 और ऑस्ट्रेलिया 25,000 लोग पहुंचे। राष्ट्रीयता के आधार पर अगर देखें तो आंकड़ों से संकेत मिलता है कि भारत ने 392,246 की संख्या के साथ दस देशों की सूची का नेतृत्व किया। इसके बाद चीन 335,530, रूस 116,467, जर्मनी 102,285, फ्रांस 74,606 और ब्रिटेन 63,676 का नंबर रहा। अमेरिका से 60,209, पाकिस्तान से 57,185, इटली से 44,787, और फिलीपींस से 43,229 लोग यहां पहुंचे। आंकड़ों के मुताबिक, मार्च में सबसे अधिक 511,227 लोग पहुंचे। सांख्यिकीय रिपोर्ट में कहा गया है कि जनवरी से जून तक, मस्जिद आने वाले लोगों में 82 प्रतिशत पर्यटक थे, जबकि 18 प्रतिशत स्थानीय लोग थे। मस्जिद पहुंचने वाले लोगों में सबसे अधिक महिलाएं थीं। उनकी हिस्सेदारी 53 फीसदी दिखी। मस्जिद आने वाले अधिकतर लोगों की आयु 46 वर्ष या उससे अधिक रही। रमजान के पवित्र महीने के दौरान, मस्जिद के वातानुकूलित तंबुओं में 890,000 से अधिक मुसलमानों ने इफ्तार के जरिए अपना रोजा तोड़ा। वर्ष के पहले छह महीनों में, सेंटर ने 1,726 मुक्त-निर्देशित टूर का आयोजन किया। इस दौरान आगंतुकों को वास्तुकला और इस्लामी संस्कृति के विभिन्न तत्वों की बारीकियों के बारे में समझाया जाता है। ई-गाइड जो 11 भाषाओं में प्रतिष्ठित लैंडमार्क के बारे में आगंतुकों को सूचित करता है, का उपयोग 17,329 आगंतुकों द्वारा किया गया था। मस्जिद की उत्कृष्ट इस्लामी वास्तुकला ने कई प्रमुख स्थानीय और अंतर्राष्ट्रीय मीडिया कंपनियों को आकर्षित किया है। सेंटर को संयुक्त अरब अमीरात, अमेरिका (CNN और ABC टीवी चैनल), चैनल 7 ऑस्ट्रेलिया, बेल्जियम टीवी, आर्मेनिया टीवी, मिस्र टीवी, मिस्र के डेली 7 और यूके के ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय से कवरेज के लिए 76 से अधिक अनुरोध प्राप्त हुए हैं। अनुवादः एस कुमार.

http://wam.ae/en/details/1395302773908

WAM/Hindi