शनिवार 13 अगस्त 2022 - 3:46:33 पीएम

यूएई 9 जेंडर बैलेंस इंडेक्स में पहले स्थान पर: संघीय प्रतिस्पर्धा और सांख्यिकी केंद्र


अबू धाबी, 22 नवंबर, 2021 (डब्ल्यूएएम) -- संघीय प्रतिस्पर्धा और सांख्यिकी केंद्र यानी (एफसीएससी) ने घोषणा किया कि यूएई को सतत विकास लक्ष्यों 2021 के लक्ष्य 5 के लिए हासिल की गई प्रगति से संबंधित नौ अंतरराष्ट्रीय प्रतिस्पर्धात्मकता सूचकांकों में पहले स्थान पर रखा गया है, जो लिंग संतुलन है। संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम लैंगिक असमानता सूचकांक में यूएई अपनी तीव्र प्रगति जारी रखे हुए है, जो 2020 में आठ स्थानों की वृद्धि कर रहा है। संघीय प्रतिस्पर्धा और सांख्यिकी केंद्र ने जोर देकर कहा कि यूएई को संसद सूचकांक में महिलाओं, कार्यस्थल सूचकांक में यौन-विरोधी और लिंग भेदभाव, कार्यस्थल सूचकांक में कानून की उपस्थिति और उत्पीड़न को संबोधित करने, घरेलू हिंसा कानून सूचकांक की उपस्थिति, भुगतान पितृत्व अवकाश सूचकांक की उपस्थिति, कार्यस्थलों से गर्भवती महिलाओं को बर्खास्त करने का निषेध सूचकांक, पुरुषों के सूचकांक जैसे व्यवसायों के लिए पंजीकरण करने के लिए महिलाओं को कानूनी रूप से सशक्त बनाने और मातृत्व अवकाश सूचकांक की उपस्थिति में विश्व स्तर पर पहला स्थान दिया गया था। संघीय प्रतिस्पर्धा और सांख्यिकी केंद्र ने यह भी बताया कि यूएई को अंतरराष्ट्रीय प्रकाशनों में नौ इंडेक्स में पहले स्थान पर रखा गया था, जिसमें इनसीड द्वारा जारी वैश्विक प्रतिभा प्रतिस्पर्धात्मकता सूचकांक के महिला नेतृत्व अवसर सूचकांक में विश्व स्तर पर नौवें स्थान पर होने के अलावा आईएमडी कम्पेटिटिवेनेस्स एअरबुक और विश्व बैंक द्वारा महिला, व्यापार और कानून रिपोर्ट शामिल है। यूएई ने हाल ही में कई कानूनों, पहलों और नीतियों का मसौदा तैयार करके लिंग संतुलन हासिल करने में अपने वैश्विक कद का विस्तार किया है, जो राष्ट्रीय सतत विकास की प्रक्रिया में महिलाओं की स्थिति को भागीदार के रूप में सहयोग करते हैं। 2019 में राष्ट्रपति हिज हाइनेस शेख खलीफा बिन जायद अल नहयान ने एफएनसी में महिलाओं के प्रतिनिधित्व कोटा को 50 फीसदी तक बढ़ाने के लिए 2019 के लिए संकल्प संख्या 1 जारी किया। एफएनसी ने अपने लिंग संतुलन लक्ष्यों को प्राप्त कर लिया है उसे एक सकारात्मक मॉडल माना जाता है और सार्वजनिक व निजी क्षेत्रों और समुदाय में संबंधित प्रयासों को प्रोत्साहित करता है। राष्ट्रपति हिज हाइनेस शेख खलीफा ने अगस्त 2020 में श्रम कानून के कुछ प्रावधानों में संशोधन करने के उद्देश्य से एक मसौदा संघीय कानून जारी किया, जो निजी क्षेत्र में कामकाजी पुरुषों और महिलाओं को 5 कार्य दिवसों के लिए छुट्टी का भुगतान करने की अनुमति देगा। नेशनल सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स कमेटी ने लक्ष्य 5 को प्राप्त करने के लिए जिम्मेदार ग्लोबल सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स काउंसिल के गठन और यूएई जेंडर बैलेंस काउंसिल के उपाध्यक्ष मोना घनीम अल मैरिज की अध्यक्षता सहित कई अग्रणी पहल जारी की। परिषद सर्वश्रेष्ठ लिंग संतुलन वैश्विक अभ्यास के दिशानिर्देशों के पहले संस्करण के तहत शुरू की गई पहल के कार्यान्वयन की निगरानी करती है। यह एक अंतरराष्ट्रीय ऑनलाइन उपकरण है, जो विभिन्न क्षेत्रों में सफल लिंग संतुलन नीतियों, कानूनों और पहलों तक पहुंच प्रदान करता है। यूएई जेंडर बैलेंस काउंसिल ने "जेंडर बैलेंस गाइडलाइन्स: प्रैक्टिकल स्टेप्स फॉर इस्टैब्लिशमेंट्स इन यूएई" प्रकाशित किया। यह कार्यस्थलों में लिंग संतुलन का सहयोग करने के लिए दुनिया में अपनी तरह का पहला प्रकाशन है, जो लिंग अंतर को बंद करने, यूएई विजन 2021 का सहयोग करने और सतत विकास लक्ष्यों 2030 को प्राप्त करने में सार्वजनिक व निजी क्षेत्र के अधिकारियों के लिए एक महत्वपूर्ण संदर्भ का प्रतिनिधित्व करता है। दिशानिर्देश कार्यस्थलों में लिंग संतुलन को मजबूत करने के लिए भी उपकरण हैं, जो मानदंड और कदमों को स्थापित करके, प्रासंगिक घरेलू कानूनों और राष्ट्रीय लिंग संतुलन पहल के अनुरूप लिंग संतुलन प्राप्त करने के लिए उठाए जाने चाहिए, जो अपनाए गए लिंग संतुलन लक्ष्य को प्राप्त करने में मदद करेंगे। महामहिम शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम, उपराष्ट्रपति, प्रधान मंत्री और दुबई के शासक द्वारा 2015 में यूएई जेंडर बैलेंस काउंसिल की स्थापना पर, जो 2021 तक यूएनडीपी जेंडर इक्वलिटी इंडेक्स में पहले स्थान पर है। अनुवादः एस कुमार.

http://wam.ae/en/details/1395302995118

WAM/Hindi