गुरुवार 27 जनवरी 2022 - 10:04:43 पीएम

यूएई के भविष्य की ओर प्रयास करने, मानव पूंजी पर भरोसा करना - हमारी असली संपत्ति: मोहम्मद बिन जायद


अबू धाबी, 1 दिसंबर, 2021 (डब्ल्यूएएम) -- अबू धाबी के क्राउन प्रिंस और सशस्त्र बलों के उप सर्वोच्च कमांडर हिज हाइनेस शेख मोहम्मद बिन जायद अल नहयान ने पुष्टि किया कि यूएई एक एकीकृत रणनीति के आधार पर भविष्य की ओर बढ़ रहा है, जिसका सबसे महत्वपूर्ण स्तंभ मानव पूंजी देश की सच्ची संपत्ति है, जो वैश्विक क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा करने के लिए महत्वपूर्ण होगी। हिज हाइनेस शेख मोहम्मद ने कहा कि कई सालों की कड़ी मेहनत, प्रयास और योजना के माध्यम से यूएई द्वारा बनाई गई ठोस नींव यह विश्वास दिलाती है कि देश में अब विभिन्न क्षेत्रों में अग्रणी बनने के लिए सभी तत्व मौजूद हैं। यूएई के विकास में आवश्यक कारक अरब और क्षेत्रीय परिवेश के भीतर एक सफल और स्थायी संघ बनाने का अनुभव है। यह एक एकजुट समाज के साथ अमीरात की ताकत के प्राथमिक स्रोत का प्रतिनिधित्व करता है, जो सहयोग, एकजुटता और अंतर-निर्भरता के हमारे मूल्यों का प्रतीक है। यूएई के 50वें राष्ट्रीय दिवस के अवसर पर यूएई सशस्त्र बलों की पत्रिका नेशन शील्ड को दिए एक बयान में शेख मोहम्मद बिन जायद ने कहा, "इस साल राष्ट्रीय दिवस के हमारे उत्सव का विशेष महत्व है, क्योंकि हमारा प्रिय राष्ट्र अपने समृद्ध इतिहास के 50 साल पूरे कर रहा है। यह महत्वपूर्ण सबक और मौजूदा व भविष्य के लिए बहुत महत्व से भरा अवसर है।"

हिज हाइनेस शेख मोहम्मद ने कहा, "यूएई भविष्य की ओर बढ़ने, कई क्षेत्रों में उत्कृष्टता प्राप्त करने और एक उज्ज्वल भविष्य बनाने के लिए दृढ़ संकल्पित है। हमारा देश अपनी प्रमुख उपलब्धियों से ताकत और आत्मविश्वास प्राप्त करता है व आज और भविष्य में हमारा मार्गदर्शन करने के लिए अपने ज्ञान, मूल्यों और स्वर्गीय शेख जायद बिन सुल्तान अल नहयान की शिक्षाओं पर निर्भर करता है। हमारा राष्ट्र शहीदों के बलिदान को एक प्रकाशस्तंभ के रूप में देखता है, जो मानवता के इतिहास में योगदान करने और इसकी आर्थिक व विकास कहानी में एक नया अध्याय लिखने के उद्देश्य से रोशनी देता है।"

नीचे पूरा बयान है: प्रिय भाइयों, बहनों, बेटों और बेटियों। इस साल हमारे राष्ट्रीय दिवस के उत्सव का विशेष महत्व है क्योंकि हमारा प्रिय राष्ट्र अपने समृद्ध इतिहास के 50 साल पूरे कर रहा है। यह आवश्यक सबक और मौजूदा व भविष्य के लिए उत्कृष्ट महत्व से भरा अवसर है। यूएई भविष्य की ओर प्रयास करने, कई क्षेत्रों में उत्कृष्टता प्राप्त करने और उज्ज्वल भविष्य बनाने के लिए दृढ़ संकल्पित है। हमारा देश अपनी प्रमुख उपलब्धियों से ताकत और आत्मविश्वास प्राप्त करता है और आज व भविष्य में हमारा मार्गदर्शन करने के लिए अपने ज्ञान, मूल्यों और स्वर्गीय शेख जायद बिन सुल्तान अल नहयान की शिक्षाओं पर निर्भर करता है। हमारा देश अपने शहीदों के बलिदान को एक प्रकाशस्तंभ के रूप में देखता है, जो मानवता के इतिहास में योगदान करने और इसकी आर्थिक व विकास कहानी में एक नया अध्याय लिखने के उद्देश्य से रोशनी देता है। हमारा लक्ष्य 2071 में अपनी शताब्दी तक दुनिया के सर्वश्रेष्ठ देशों में से एक बनना है। हमारा देश अगले 50 सालों में प्रवेश कर रहा है क्योंकि यह एक्सपो 2020 दुबई में दुनिया का स्वागत करता है, जो मध्य पूर्व, उत्तरी अफ्रीका और दक्षिण एशिया में पहला एक्सपो है। कोवि़ड-19 महामारी से निपटने में हमारे देश के अनुभव ने क्षेत्रीय और वैश्विक स्तर पर ठोस प्रबंधन, दक्षता और एकजुटता का लाभ दिखाया, जो इस क्षेत्र और दुनिया के लिए एक सकारात्मक संदेश को बढ़ावा देता है। वैश्विक चुनौतियों विशेष रूप से जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए हमारी अग्रणी पहलों को अंतरराष्ट्रीय समर्थन मिला है, जिसमें 2050 तक कार्बन तटस्थता हासिल करने की हमारी प्रतिबद्धता भी शामिल है। यूएई अगले पांच दशकों में अन्वेषण परियोजनाओं की एक महत्वाकांक्षी श्रृंखला के साथ प्रवेश करेगा। मंगल ग्रह पर हमारे सफल मिशन के बाद हम एक अंतरिक्ष यान लॉन्च करने की योजना बना रहे हैं जो चंद्रमा, शुक्र और क्षुद्रग्रह बेल्ट का पता लगाएगा। यह यूएई की होप प्रोब की तुलना में सात गुना लंबी यात्रा के बाद एक क्षुद्रग्रह पर अरब जांच की पहली लैंडिंग में परिणत होगा। इन साहसिक योजनाओं के साथ यूएई विकास उद्देश्यों के लिए परमाणु ऊर्जा के उत्पादन में भी लगा हुआ है। इसके अलावा हमारे देश को विभिन्न वैश्विक प्रतिस्पर्धा संकेतकों में क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहले स्थान पर रखा गया है। हम आशान्वित हैं कि हम अपनी सभी महत्वाकांक्षाओं को प्राप्त कर लेंगे और अगले 50 सालों में और सफलता और प्रगति होगी। हमारा देश भविष्य के लिए अपना रास्ता जानता है और आत्मविश्वास के साथ उसका पालन करने के लिए सुसज्जित है। हमारी भविष्य की महत्वाकांक्षाएं 'प्रिंसिपल्स ऑफ द 50' द्वारा निर्देशित हैं, जो राजनीति, अर्थव्यवस्था और विकास के क्षेत्रों में हमारे देश के रणनीतिक पथ को परिभाषित करती हैं। सिद्धांत हमारे लोगों की आकांक्षाओं को प्राप्त करने, हमारे राष्ट्रीय हितों की रक्षा करने और बाहरी संबंध स्थापित करने के लिए सभी यूएई संस्थानों के लिए एक रूपरेखा बनाते हैं, जो घर पर विकास को बढ़ावा देते हैं और पूरे क्षेत्र और दुनिया में शांति, स्थिरता और सहयोग की नींव को मजबूत करते हैं। 'प्रोजेक्ट्स ऑफ द 50' आने वाले दशकों में हमारी विकास प्राथमिकताओं के लिए एक रोडमैप का भी प्रतिनिधित्व करती हैं। ये परियोजनाएं भविष्य की पीढ़ियों को लाभान्वित करने, उपलब्ध अवसरों में निवेश करने व चुनौतियों को विकास, नवाचार व रचनात्मकता, हमारे नागरिकों को स्वस्थ प्रतिस्पर्धा में शामिल होने की अनुमति देती है। सरकारी काम के लिए एक नई पद्धति है, जो एक गतिशील सरकार द्वारा तैयार की गई है। यह लगातार उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और दुबई के शासक हिज हाइनेस शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम के नेतृत्व में उत्कृष्टता और रचनात्मकता की तलाश कर रही है। यह सरकारी प्रदर्शन के विकास को एक सतत प्रक्रिया बनाने, राष्ट्रीय प्राथमिकताओं को सटीक व स्पष्ट रूप से परिभाषित करने और राष्ट्रीय लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए दक्षता व टीम वर्क के मूल्य को बढ़ाता है। कई सालों के काम, प्रयास और योजना के माध्यम से यूएई द्वारा निर्मित ठोस नींव हमें भविष्य में विश्वास दिलाती है। हमारे देश में अब विभिन्न क्षेत्रों में अग्रणी होने के लिए सभी तत्व मौजूद हैं। यूएई आने वाले दशकों में जो हासिल करना चाहता है उसका प्रभाव उसकी सीमाओं तक सीमित नहीं होगा, बल्कि सभी अरबों तक विस्तारित होगा, जिससे उन्हें प्रेरणा मिलेगी और कठिनाइयों की परवाह किए बिना प्रगति करने की उनकी क्षमता में उनका विश्वास बढ़ेगा। हम अपने देश को संपूर्ण अरब दुनिया में विकास और सुधार के लिए उत्प्रेरक और इस क्षेत्र में सभ्यता को आगे बढ़ाने के लिए एक प्रारंभिक बिंदु बनाने के लिए काम कर रहे हैं। अगले 50 सालों के दौरान हमारे देश और उसके लोगों के उज्ज्वल भविष्य की ओर हमारा मार्ग निम्नलिखित स्तंभों और नींव के अनुसार एक एकीकृत रणनीति पर आधारित है। हर साल हम राष्ट्रीय दिवस मनाते हैं और स्वर्गीय शेख जायद और उनके साथी संस्थापक नेताओं को कृतज्ञता और प्रशंसा के साथ याद करते हैं। 50वें राष्ट्रीय दिवस पर हम उनके मार्ग और सिद्धांतों का पालन करने की प्रतिज्ञा को दोहराते हैं क्योंकि उन्होंने 2 दिसंबर, 1971 को एकता का वृक्ष लगाया था। इस पेड़ ने अच्छाई, पुनरुत्थान और अमीराती नेतृत्व व दुनिया को देखने के लिए मौजूद सभी सफलताओं को सामने लाया है। यूएई ने पिछले 50 सालों में जो कुछ हासिल किया है, उसके लिए हमारे संस्थापकों ने एक मजबूत नींव रखी है। हमने उनसे अपने लक्ष्य में दृढ़ इच्छाशक्ति व विश्वास और चुनौतियों का सामना करने के लिए दृढ़ संकल्प की आवश्यकता सीखी है। उनके सिद्धांतों और दृढ़ इच्छाशक्ति से प्रेरित होकर हमारा देश अगले 50 सालों के दौरान अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने की दिशा में आगे बढ़ेगा। ईश्वर और हमारे लोगों व हमारी प्रगति की इच्छा की मदद से मुझे विश्वास है कि हमारा भविष्य उज्जवल और अधिक उन्नत होगा। ईश्वर यूएई और उसके लोगों को गर्व और स्थिरता प्रदान करें और हमें निरंतर शांति व कल्याण प्रदान करें। अनुवादः एस कुमार.

http://wam.ae/en/details/1395302998750

WAM/Hindi