शनिवार 28 मई 2022 - 11:45:25 पीएम

2021 रिकॉर्ड में शीर्ष 7 सबसे गर्म सालों में शामिल: डब्ल्यूएमओ


जिनेवा, 20 जनवरी, 2022 (डब्ल्यूएएम) -- संयुक्त राष्ट्र की मौसम एजेंसी ने बुधवार को कहा कि पिछले साल रिकॉर्ड पर सात सबसे गर्म सालों की सूची में शामिल हुआ। यह लगातार सातवां साल भी था जब वैश्विक तापमान पूर्व-औद्योगिक स्तरों से 1 डिग्री सेल्सियस से अधिक रहा है, जो 2015 पेरिस जलवायु परिवर्तन समझौते के तहत निर्धारित सीमा के करीब है। हालांकि, विश्व मौसम विज्ञान संगठन यानी (डब्ल्यूएमओ) द्वारा समेकित छह प्रमुख अंतरराष्ट्रीय डेटासेट के अनुसार, 2020-2022 ला नीना घटनाओं द्वारा औसत वैश्विक तापमान अस्थायी रूप से ठंडा हो गया था, जिससें 2021 अभी भी रिकॉर्ड पर सात सबसे गर्म सालों में से एक था। एजेंसी ने कहा कि ग्लोबल वार्मिंग और अन्य दीर्घकालिक जलवायु परिवर्तन के रुझान वातावरण में हीट-ट्रैपिंग ग्रीनहाउस गैसों के रिकॉर्ड स्तर के परिणामस्वरूप जारी रहने की उम्मीद है। 2021 में औसत वैश्विक तापमान पूर्व-औद्योगिक युग के स्तर से लगभग 1.11 (0.13) सेल्सियस अधिक था। पेरिस समझौता सभी देशों को सामूहिक जलवायु कार्रवाई और यथार्थवादी राष्ट्रीय स्तर पर निर्धारित योगदान के माध्यम से ग्लोबल वार्मिंग की 1.5 सेल्सियस की सीमा की ओर प्रयास करने का आह्वान करता है। यह व्यक्तिगत देश की योजना है, जो हीटिंग की दर को धीमा करने के लिए एक वास्तविकता बनने की आवश्यकता है। डब्ल्यूएमओ ने कहा कि यह "सबसे व्यापक, आधिकारिक तापमान मूल्यांकन सुनिश्चित करने के लिए" छह अंतरराष्ट्रीय डेटासेट का उपयोग करता है और उसी डेटा का उपयोग इसकी आधिकारिक वार्षिक स्टेट ऑफ द क्लाइमेट रिपोर्ट में किया जाता है। डब्ल्यूएमओ ने कहा कि 1980 के दशक से प्रत्येक दशक पिछले दशक की तुलना में गर्म रहा है और "यह जारी रहने की उम्मीद है।"

2015 के बाद से सबसे गर्म सात साल रहे हैं, जिसमें शीर्ष तीन 2016, 2019 और 2020 हैं। 2016 में एक असाधारण रूप से मजबूत अल नीनो घटना हुई, जिसने वैश्विक औसत वार्मिंग को रिकॉर्ड करने में योगदान दिया। डब्ल्यूएमओ के महासचिव प्रोफेसर पेट्री तालास ने कहा, "बैक-टू-बैक ला नीना घटनाओं का मतलब है कि हाल के सालों की तुलना में 2021 की वार्मिंग अपेक्षाकृत कम स्पष्ट थी। फिर भी ला नीना से प्रभावित पिछले सालों की तुलना में 2021 अभी भी गर्म था।"

"ग्रीनहाउस गैस में वृद्धि के परिणामस्वरूप समग्र दीर्घकालिक वार्मिंग अब प्राकृतिक रूप से होने वाले जलवायु चालकों के कारण वैश्विक औसत तापमान में साल-दर-साल परिवर्तनशीलता से कहीं अधिक है।"

डब्लूएमओ प्रमुख ने कहा, "साल 2021 को कनाडा में लगभग 50 सेल्सियस के रिकॉर्ड-टूटने वाले तापमान के लिए याद किया जाएगा, जो अल्जीरिया के गर्म सहारन रेगिस्तान में रिपोर्ट किए गए मूल्यों, असाधारण वर्षा और एशिया व यूरोप में घातक बाढ़ के साथ अफ्रीका और दक्षिण अमेरिका के कुछ हिस्सों में सूखे के लिए भी याद किया जाएगा।"

तालास ने रेखांकित किया, "जलवायु परिवर्तन के प्रभावों और मौसम संबंधी खतरों का हर एक महाद्वीप पर समुदायों पर जीवन-परिवर्तन और विनाशकारी प्रभाव पड़ा।"

अनुवादः एस कुमार.

https://wam.ae/en/details/1395303013123

WAM/Hindi